ई श्रम कार्ड लाभ: श्रमिकों को मिलेगा 2 लाख तक का लाभ, जानिए कैसे यहाँ देखे 

ई श्रम कार्ड लाभ: श्रमिकों को मिलेगा 2 लाख तक का लाभ, जानिए कैसे यहाँ देखे

 

ई श्रम पोर्टल पंजीकरण सीएससी https eshram.gov.in sramsuvidha.gov.in पर स्वयं पंजीकरण ऑनलाइन लॉगिन करें। NDUW e SHRAM पोर्टल पात्रता, लाभ और उद्देश्यों की जाँच करें। E SHRAM पोर्टल ऑनलाइन register.eshram.gov.in सीएससी पंजीकरण लागू करें। NDUW E श्रम पोर्टल हाल ही में असंगठित श्रमिकों के लिए शुरू किया गया है। सीएससी आश्रम कार्ड सेल्फ रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन पोर्टल भारत सरकार की एक पहल है [Click Here to Direct Download Link ]

मजदूरों के लिए। इसे देश भर के असंगठित कामगारों के समग्र कल्याण के लिए डिजाइन किया गया है। मूल रूप से ई श्रम पोर्टल एक प्रकार का राष्ट्रीय डेटाबेस पोर्टल है जो लिंक में https रजिस्टर ई श्रम gov है। इस पोर्टल की मुख्य यूएसपी यह है कि अब राज्य और केंद्र सरकार यूडब्ल्यू को हर तरह की सहायता प्रदान करने में सक्षम होगी।

ई-श्रम योजना श्रमेव जयते :-

जैसा कि नाम से पता चलता है, यह हाल ही में श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा शुरू की गई एक योजना है, जिसके तहत केंद्र सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को दिया जाता है। ई-श्रम योजना के तहत देश के लगभग 43.7 करोड़ असंगठित क्षेत्र के कामगारों के ई-श्रम कार्ड तैयार किए जाएंगे, जिसके माध्यम से उन्हें सीधा लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से केंद्र स्तर पर आंकड़े एकत्र करना शुरू किया गया है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का सीधा लाभ दिया।

यू एन कार्ड के फायदे कई हो सकते हैं, लेकिन हम इस उदाहरण से एक महत्वपूर्ण लाभ समझते हैं, जैसा कि आप सभी ने देखा कि कोरोनावायरस महामारी के कारण देश में बेरोजगारी ऐसी हो गई है कि लोग भुखमरी के शिकार होने लगते हैं, इसलिए केंद्र सरकार ने आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए कोरोना वित्तीय सहायता योजना शुरू की थी, जिसके तहत बेरोजगार और प्रवासी मजदूरों को पंजीकरण करने के लिए कहा गया, कई मजदूरों ने पंजीकरण कराया और उन्हें कोरोनावायरस सहायता की राशि भी मिली।

लेकिन कई ऐसे मजदूर भी थे जिन्हें किसी कारणवश यह जानकारी नहीं मिल पाई या वे किसी कारण से खुद को कोरोना वायरस एड में पंजीकृत नहीं करा पाए तो उन्हें कोरोना वायरस एड का लाभ नहीं मिल सका। यदि कभी ऐसी स्थिति आती है, तो केंद्र सरकार के साथ अपने पंजीकृत डेटा का उपयोग करके, जो आपने ई-श्रम योजना को पंजीकृत करने के बाद केंद्र सरकार को दिया है, केंद्र सरकार या राज्य सरकार सीधे आपको राशि भेज सकेगी और जरूरत के समय आप किसी भी तरह का रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। आवश्यकता नहीं होगी।

Department श्रम एवं रोजगार विभाग
Country India
Scheme ई-श्रम पोर्टल या श्रमिक पंजीकरण ऑनलाइन
Launched Date 26th August 2021
Launched By भूपेंद्र यादव, श्रम मंत्री
Toll-Free Number 14434
Official Website eshram.gov.in 
E-Shram Yojana?

ई-श्रम योजना वास्तव में केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई क योजना है जो देश में मौजूद हर एक असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का डेटा एकत्र करने का काम करेगी, वास्तव में यह अवर्गीकृ श्रमिकों का एक राष्ट्रीय डेटाबे होगा। इसके तहत असंगठित क्षेत्र के कामगारों की पूरी जानकारी मिलेगी। आश्रम कार्ड योजना के तहत पंजीकृत होने के बाद, असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को केंद्र सरकार यानि राज्य सरकार द्वारा शुरू की ग किसी भी योजना के सुचारू संचालन में मदद की जाएगी, जो इन लोगों को प्रत्यक्ष लाभ दे सकती है, ताकि श्रमिकों असंगठित क्षेत्र को मिलेगा सीधा लाभ और आपको जल्द लाभ मिलेगा।

असंगठित क्षेत्र क्या है और इसमें किस तरह के लोग शामिल हैं?

सरल शब्दों में कहें तो संगठित क्षेत्र का अर्थ है एक ऐसा क्षेत्र जिसका कोई संगठन नहीं है, यानी सरल शब्दों में कहें तो आपको काम करने के लिए किसी प्रकार का वेतन नहीं मिल रहा है, आप किसी ऐसे काम से जुड़े हैं जिसके तहत आपको हमेशा काम नहीं मिलता है। रहते थे। संगठित क्षेत्र में निजी या सार्वजनिक क्षेत्र के श्रमिक शामिल हैं जो नियमित वेतन, वजीफा या अन्य लाभ प्राप्त करते हैं जिसमें भविष्य निधि और उपदान के रूप में छुट्टी और सामाजिक सुरक्षा शामिल है। यानी अगर आप संगठित क्षेत्र से आते हैं तो ई-श्रम योजना के तहत आप पहले लाभार्थी नहीं हो सकते हैं और आपको इसका लाभ नहीं मिलेगा।

NDUW क्या है? , ई-श्रम कार्ड क्या है

NDUW का पूरा नाम National Database of Uncategorized Workers, है, श्रम और रोजगार मंत्रालय असंगठित श्रमिकों का एक राष्ट्री डेटाबेस तैयार कर रहा है, जिसके तहत आश्रम पोर्टल विकसित किया गया है और UAN कार्ड योजना शुरू की गई है।

  • श्रम एवं रोजगार मंत्रालय असंगठित कामगारों का राष्ट्री डाटाबेस तैयार कर रहा है।
  • ️ वेबसाइट पर असंगठित श्रमिकों के पंजीकरण की सुविधा है।
  • ️ प्रत्येक यूडब्ल्यू (अवर्गीकृत कार्य) को एक पहचान पत्र जारी किया जाएगा जो एक विशिष्ट पहचान संख्या होगी, जो
  • यूएएन कार्ड, एनडीयूडब्ल्यू कार्ड, आश्रम कार्ड जाएगा।
छोटे और सीमांत किसान
  • कृषि मजदूर️
  • शेरक्रॉपर्स
  • ️ मछुआरा
  • ️ पशुपालन में लगे लोग
  • ️बीड़ी रोलिंग
  • ️ लेवलिंग और पैकिंग
  • ️ भवन और निर्माण श्रमिक
  • ️चमड़े के मजदूर
  • ️ बुनकर
  • ️ आवर्धित
  • ️नमक कार्यकर्ता️
  • ईट भट्ठों और पत्थर की खदानों में काम करने वाले मजदूर
  • ️ आरी मिल मजदूर

ई श्रम योजना के लाभ / ई श्रम कार्ड के लाभ

हालांकि ई-श्रम कार्ड योजना के कई लाभ हैं, जो सीधे असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को मिलेंगे, लेकिन इनके मुख्य लाभ इस प्रकार हैं:-

️इस डेटाबेस पर आधारित सामाजिक सुरक्षा योजनाएं मंत्रालयों/सरकारों द्वारा लागू की जाएंगी
️ भीम योजना सुरक्षा का लाभ श्रमिकों को दोपहर बाद मिलेगा
️ NDUW के तहत पंजीकृत कर्मचारी पीएम सुरक्षा भीम योजना का लाभ ले सकते हैं और पंजीकरण के बाद उन्हें 1 वर्ष के लिए प्रीमियम भुगतान से छूट दी जाएगी।

NDUW में पंजीकरण क्यों करे ?

असंगठित श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा और कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिलेगा।
️ यह डेटाबेस असंगठित श्रमिकों के लिए नीति और कार्यक्रम तैयार करने में सरकार की मदद करेगा।
अनौपचारिक क्षेत्र से औपचारिक क्षेत्र में श्रमिकों की आवाजाही और इसके विपरीत, उनके व्यावसायिक कौशल विकास आदि की निगरानी केंद्र सरकार द्वारा की जाएगी और तदनुसार उन्हें उपयुक्त कार्य रोजगार के साधन प्रदान किए जाएंगे।
️ प्रवासी श्रमिक कार्यबल को ट्रैक कर रोजगार के अधिक अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे।

ई श्रम योजना पात्रता मानदंड

NDUW कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए यानी UAN कार्ड प्राप्त करने के लिए, नीचे दी गई पात्रता और मानदंडों को पूरा करना आवश्यक है: –

  • ️आवेदक की आयु 15-59 वर्ष के बीच होनी चाहिए
  • ️ प्रार्थक आयकर जादा नहीं होना चाहिए
  • ️आवेदक ईपीएफओ या ईएसआईसी का सदस्य नहीं होना चाहिए
  • ️ आवेदन करना और संगठित क्षेत्र का कर्मचारी होना चाहिए।

 

ई श्रम कार्ड बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज

अनिवार्य दस्तावेज
️आधार संख्या का उपयोग कर अनिवार्य ईकेवाईसी
ओटीपी
अंगुली की छाप
नेत्रगोलक
️बैंक खाता संख्या
️मोबाइल नंबर

2. वैकल्पिक दस्तावेज

शिक्षा का प्रमाण पत्र
️आय प्रमाण पत्र
️ बिजनेस सर्टिफिकेट
️कौशल प्रमाण पत्र

सीएससी सर्विस सेंटर से श्रमिक कार्ड बनवाने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको अपने नजदीकी कॉन सर्विस सेंटर में जाना होगा और उन्हें बताना होगा कि आप यूएएन कार्ड यानी आश्रम कार्ड लेना चाहते हैं।
️ कॉमन सर्विस सेंटर ऑपरेटर (सीएससी वीएलई) द्वारा आपसे आपका आधार कार्ड नंबर मांगा जाएगा और कुछ जानकारी जैसे आपका पता आदि के बारे में पूछा जाएगा।
️दस्तावेज के रूप में आपसे कुछ दस्तावेज मांगे जा सकते हैं जैसे कि आपका आय प्रमाण पत्र, आपका व्यवसाय प्रमाण पत्र,  शिक्षा प्रमाण पत्र (भले ही आप इन सभी दस्तावेजों को प्रदान नहीं करते हैं, आप पंजीकृत होंगे क्योंकि यह एक औपचारिक दस्तावेज है)
️सीएससी वीएलई द्वारा ई श्रम पोर्टल पर ऑनलाइन के माध्यम से आपका पंजीकरण होगा और उसी समय डाउनलोड करके आपको आश्रम कार्ड दिया जाएगा।
️ ऑपरेटर द्वारा आपको ए4 पेपर पर सादे प्रिंट में लेबर कार्ड दिया जाएगा, जिसके लिए आपसे ₹1 भी शुल्क नहीं लिया जाएगा।
️ अगर आप ई-श्रम कार्ड को आधार कार्ड की तरह रंग में प्रिंट कराना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कॉमन सर्विस सेंटर संचालक को अलग से भुगतान करना होगा।

 

3 thoughts on “ई श्रम कार्ड लाभ: श्रमिकों को मिलेगा 2 लाख तक का लाभ, जानिए कैसे यहाँ देखे ”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *